मेरा गीत खो गया है Read Count : 25

Category : Poems

Sub Category : N/A
मेरा गीत खोया है स्पायडरकी जाल में
डाटा डिलीट हो गया जो था मेरे मन में   । । धृ    ।। 
मेरी आयडी   अब याद नही मुझे
ये पासवर्ड , मैं कहॉ धुंडू तुझे
मेरी रचना खो गयी है  टॉवरके भवर में । । 
ना लिख पा रहा हूँ  जो  खोयी सपनों की बाते 
ना आती मुझे नींद हुयी हराम हसीन रातें
जितना कोशिश करता हूँ, उलझता हूँ बेहाल में । । 
 मेरा प्रोफाइल अब मुझे ही याद नही
चेहरें पर चढे मास्क की ये हद हो गयी
अब विचरता हूँ  अंजान मैं इन्सानों के बन में।। 
  जो लगाये थे अंगारे भले ही  सारे बुझ गये
हारना मेरा अक्स नही खोजू मैं नई राहे
फिर उभरकर आउंगा मैं, नये रूप रंग में । । 



Comments

  • May 07, 2022

Log Out?

Are you sure you want to log out?