Guru Purnima Read Count : 21

Category : Articles

Sub Category : Lifestyle
बड़े नादान है हम इस दुनिया के कितने रंग है हमे नही पता कोन सच्चा है कोन झूठा ये भी नही पता किसी के भी बातो में आकर हम बहक जाते है कोई गलत कह रहा है की सच ये भी हमें नही पता वो सही है हम ये ही मान लेते है जैसा कि कुछ महीनों पहले हुआ था मेरे साथ और फिर भी आप छोटा भाई समझ के हर गलती माफ कर देते हो तो भईया मामूली इंसान नही हो आप कभी भटका हु अपने रास्ते से तो हमेशा सही रास्ता दिखाया है और मैं भी नही सभी बच्चों का अपने हमेशा भला ही चाहा है लिखना तो बहुत कुछ है आपके बारे में पर अपसोस ये कलम और पन्ने उन शब्दों को लिखते लिखते थक जायेंगे और भुला तो इंसानों को जाता है एक मसीहा को कैसे भुल पाएंगे 
Happy Guru Purnima bhaiya ji

             आपका अपना छोटा भाई विशाल

Comments

  • No Comments
Log Out?

Are you sure you want to log out?