Dost Teri Jrurat Read Count : 32

Category : Poems

Sub Category : N/A
तेरी दोस्ती के हसीन लम्हे बहुत खूबसूरत है
मेरे यार तू अब भी मेरी जरूरत है

साथ तो तेरे इतने नही रहे फिर भी
तेरी दोस्ती के पल याद आते हैं
यादों की किताबों के हर एक पन्ने पर तु ही है
अब क्या कहूँ मेरे यार तू ही मेरी फितरत है
मेरे यार तू अब भी मेरी जरूरत है

हरपल यही सोचता हूं तू हमेशा मेरे साथ रहे
तेरे हर एक सपने पूरे हो 
तू आजा मेरी जिंदगी में फिर से बस.....यह मेरी इजाजत है
मेरे यार तू अब भी मेरी जरूरत है😍

Comments

  • No Comments
Log Out?

Are you sure you want to log out?