Great Bruce Lee Read Count : 3

Category : Articles

Sub Category : Motivation

दुनिया में शायद ही कोई ऐसा शख्स हो जो "ब्रूस ली" के नाम से परिचित न हो। "ब्रूस ली" चीन की एक महान हस्ती है, जिन्हें लोग विश्व का सबसे अच्छा मार्शल आर्टिस्ट कहते है। "ली" मार्शल आर्टिस्ट होने के साथ-साथ हॉन्ग कॉन्ग एवं अमेरिका के अभिनेता, निर्माता, निर्देशक, पटकथा लेखक, फिलोसफ़र, टीचर, और जीत कुन डो मार्शल आर्ट के संस्थापक भी थे। इन्होने अपने काम से बहुत ही कम समय में लोगो के दिल में जगह बना ली थी और अपनी एक छोटी सी ज़िन्दगी में एक अलग और कभी न मिटने वाली छाप छोड़ी। इन्होने छोटी उम्र में ही फिल्मो में प्रवेश किया और वे एक बाल कलाकार के रूप में मशहूर हो गए।

अपने अभिनय और मार्शल आर्ट के रूप में काम करते करते वे बहुत जल्द एक मार्शल आर्ट प्रशिक्षक बन गए। लोगो ने उन्हें बहुत पसंद किया। कपड़ें, जुते, पासधान, पोस्टर, फिल्मो आदि के विज्ञापन के क्षेत्र में भी "ब्रूस ली" की धूम रही, किन्तु 32 साल की अल्पायु में इनकी मृत्यु हो गई।


दोस्तों आज हम आपको ब्रूस ली के बारे में कुछ ऐसे Facts बताने जा रहे है जो शायद आप नहीं जानते। उनमे बहुत सी एसी विशेषताए थी जो उन्हें Human से Super Human.. बनाती है तो

आइये जानते है ब्रूस ली के रोचक तथ्यों के बारे में-

5 फिट 4 इंच लम्बाई और 64 कि.लो. वजन मगर ताकत ऐसी की एक इंच दूर से मुक्का मार कर अच्छे खासे आदमी को गिरा दे। इतिहास के सबसे Fast आदमी की बात की जाए या मार्शल आर्ट चैम्पियन की। Bruce Lee का नाम न आये .. ये हो नहीं सकता। ..


Bruce lee का मार्शल आर्ट से नाम ऐसे जुड़ा है कि उनके बिना ये आर्ट अधुरा है। ब्रूस ली मार्शल आर्ट में इतने माहिर थे कि 0.05 सेकंड में तीन फिट दूर खड़े किसी को भी मार कर गिरा सकते थे.. दोस्तों आपको ये जानकार हैरानी होगी कि वो कैमरे की नज़र से भी काफी तेज़ थे।


आज हम आपको Bruce Lee से जुड़े कुछ ऐसे हैरान करने वाले Facts के बारे में बताने जा रहे है जिनके बारे में आज से पहले आपको शायद ही मालूम होगा। 


Bruce Lee का जन्म 27 नवम्बर 1940 को अमेरिका के सेन फ्रांसिस्को शहर में "चाइना टाउन जंक्शन स्ट्रीट हॉस्पिटल" में हुआ मगर उनके पिता चीनी और माँ जर्मनी से थी।


Bruce Lee ने दुनिया की मशहूर यूनिवर्सिटी "University Of Washington" से अपनी पड़ाई पूरी की थी।


Bruce Lee का वास्तविक नाम "Jun Fan Lee" (जून फैन ली) था जो उनको उनकी माँ ने दिया था। ब्रूस नाम उनको हॉस्पिटल अटेंडिंग फिजिशियन डॉ. मैरी ग्लोवर द्वारा दिया गया था (या कुछ ने कहा कि वो एक नर्स थी।)


आपको बता दे कि ब्रूस ली ने वर्ष 1941 में "Golen Gate Girl" नामक एक फ़िल्म में काम किया था उस वक्त उनकी उम्र महज तीन महीने थी।


Bruce Lee ने सिर्फ 18 साल की उम्र तक बाल कलाकार के रूप में लगभग बीस फिल्मो में काम कर लिया था।


Bruce Lee एक फाइटर के साथ-साथ एक बेहतरीन डांसर भी थे उन्हें डांस करना काफी पसंद था।

वन-टू चा.. चा.. चा...। उषा उत्थप के इस गाने को तो आपने सुना ही होगा लेकिन क्या आपको मालूम है कि ब्रूस ली इस डांस स्टाइल के महारथी थे। उन्होंने 1958 में हांग कांग में आयोजित चा चा चैम्पियनशिप जीती थी।


Bruce Lee के पिता "Lee Hoi Chuen" हॉन्ग कॉन्ग में एक अच्छे "Opera Singer" थे।


क्या आपको पता है Bruce Lee के बचपन के दिनों में कुछ बदमाशो ने उन्हें पिट कर लूट लिया था तब ब्रूस ली ने ठाना कि वे बदमाशो को सबक सिखाने के लिए Martial Art सीखेंगे। उसके बाद ब्रूस ली को कोई नहीं हरा पाया। ये उनकी पहली और आखिरी हार थी।


Bruce Lee की मार्शल आर्ट टेक्निक का विकास "विंग चूंग" नामक तकनीक से हुआ जिसकी शिक्षा उन्होंने "यीप मैन" कूंग-फू मास्टर से ली थी।

हाल ही के कुछ सालो में इन्ही यीप मैन के जीवन पर आधारित फिल्मो की एक श्रृंखला आई थी जिसका नाम "IP Man" था जिसके दुसरे भाग के अंत में ब्रूस ली उनके शिष्य बनकर आते थे।


उनकी तेजी का अंदाज़ा उस वक्त लगाया गया जब 1962 में एक फाइट को ब्रूस ली ने केवल 11 सेकंड में ख़त्म कर दिया जिसमे उन्होंने अपने विपक्षी पर एक के बाद एक ताबड़तोड़ 15 पंच और एक किक जड़ दिए। यह कारनामा ब्रूस ली ने महज 11 सेकंड के अन्दर किया था।


Bruce Lee की बिजली-सी फुर्ती का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हो कि वह आपके हाथ बंद करने से पहले ही आपके हाथ से सिक्का निकाल कर अपना सिक्का आपके हाथ में थमा देने की हैरतअंगेज क्षमता रखते थे।


Bruce Lee इतने तेज थे कि चावल के दाने को हवा में फेंककर  Chopsticks से पकड़ सकते थे।


Kick मारी किसी को, और हाथ टूटा किसी और का- Lee की किक की ताकत का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि एक बार उन्होंने अपने विरोधी को इतनी तेज़ किक मारी थी कि उससे वही पर खड़े एक शख्स का हाथ टूट गया था क्योकि Lee का विरोधी उस इंसान पर जाकर गिरा था।


ब्रूस ली रोजाना 5000 से भी ज्यादा Punch मारकर अभ्यास करते थे।


जानकारी के अनुसार Lee एक टाईम पर 1500 Push up मार सकते थे। 200 Push Up दो उंगली की मदद से और सिर्फ एक अंगूठे की मदद से 100 Push Up दे सकते थे


Bruce Lee एक सेकंड में 9 Punch मार सकते थे और हर Punch की Power समान होती थी।


Bruce Lee एक सेकंड में लगातार 6 Kick मार सकते थे उनकी Kick इतनी शक्तिशाली होती थी कि उनकी Signatue Move - Skip Sidekick एक अच्छे खासे आदमी को हवा में फैकने के लिए काफी थी।


Bruce Lee छः इंच यानि (15 से.मी.) मोटी लकड़ी के तख्ते को भी एक झटके में तोड़ सकते थे।


किसी के लिये ये कारनामा करना लगभग नामुमकिन है लेकिन एक ब्रूस ली ही है जो स्टील से बनी कोका कोला कैन में एक उंगली से छेद कर दिया करते थे आपको बता दे की उस समय की कैन आज के एल्युमिनियम कैन से अधिक मोटी और स्टील से बनी होती थी।


Bruce Lee अपनी एक लात से ही 45Kg. के पंचिंग बैग को फाड़ देते थे जो प्रोफेशनल मार्शल आर्टिस्ट के लिए नामुमकिन है इसलिए ब्रूस ली कभी भी नार्मल पंचिंग बैग का स्तेमाल नहीं करते थे उनके पंचिंग बैग का वजन करीब 138Kg. था जो कि किसी आम बैग की तुलना में तिन गुना से भी ज्यादा है।


Bruce Lee हद से ज्यादा कसरत करते थे इसलिए उन्हें पसीना आना संभव था इसलिए उन्होंने सर्जरी करवा कर अपने पसीना बनाने वाली ग्रंथि को निकलवा दिया था।


1964 में ब्रूस ली को लाँग बीच, केलिफ़ोर्निया में एक कराटे कॉम्प्टिशन में इनवाइट किया गया जहा पर उन्होंने पहली बार अपना फेमस 'One Inch Punch' परफॉर्म किया जिसमे उन्होंने अपने विरोधी को केवल एक इंच दूरी से मारे गए पंच से काफी दूर फैक दिया।

Bruce Lee का "One Inch Punch" आज भी दुनिया भर में मशहूर है।


Bruce Lee करीब 150 Power का मुक्का (Punch) मार सकते थे मशहूर बॉक्सिंग चैम्पियन मुहम्मद अली भी एक Punch में इतना ही Power Use कर सकते थे लेकिन मुहम्मद अली का वजन ब्रूस ली से लगभग 60kg ज्यादा था ब्रूस ली का अपना वज़न 58-64Kg था लेकिन सिर्फ 64kg का वजन होकर 150 कि.लो ताकत का इस्तेमाल करना आम आदमी के लिए मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है।


Bruce Lee अपना पसंदीदा हथियार Nunchaku से 1,600 Pounds यानि कि 725Kg की ताकत पैदा कर सकते थे मतलब Nunchaku के एक वार से किसी की भी एक सेकंड में मौत हो सकती है।


Bruce Lee ने कभी कराटे नहीं सिखा मगर वह एक कराटे चैम्पियन थे।


Bruce Lee को किताबे पड़ना पसंद था इसलिए उन्होंने अपने घर पर 2000 किताबो की लाइब्रेरी बनवाई थी।

ब्रूस ली 3-4 काम एक साथ कर लेते थे जैसे- ब्रूस ली Tv तो देखते ही थे इसी के साथ साथ वे किताब भी पड़ लेते थे और व्यायाम को भी अंजाम दिया करते थे। तीनो काम एक साथ करना उनकी हैरतअंगेज क्षमताओ का नमूना था।


ब्रूस ली 60 के दशक में मार्शल आर्ट की कला को सिखाने के लिए 250 डॉलर लिया करते थे। जो आज के हिसाब से करीब 1500 अमेरिकी डॉलर होगा और यदि इसे भारतीय रूपये में Convert कर दिया जाये तो ये लगभग 96,000 रुपये प्रति/घंटा होगा।

ब्रूस ली की मार्शल आर्ट क्लास के कुछ फेमस स्टूडेंट्स में- Steve MeQueen, Joe Lewis, Chuck Norris, James Coburn, Abdul-Jabbar जैसे लोग शामिल है।


Bruce Lee का एक गुप्त शौक कविता लिखना भी था और वास्तव में वे इसमें बहुत अच्छे भी थे। उन्होंने ढेरों कविताए भी लिखी थी।


1963 में US Army Draft Board द्वारा आयोजित Physical Test में उन्हें निराशा का सामना करना पड़ा, अपनी कमज़ोर दृष्टि के कारण वो उस टेस्ट में फैल हो गए थे।


Bruce Lee वो पहले इंसान थे जिन्होंने अपनी कमज़ोर आँखों के कारण "Contact Lenses" का प्रयोग किया था।


Bruce Lee सेकंड के 5 सौवें (0.05 Second) हिस्से में तीन फिट दूर खड़े रहकर किसी को भी जोरदार घुसा (Punch) मार सकते थे।


एक बार ब्रूस ली ने सिर्फ एक हाथ से फाइट लड़ी थी


Bruce Lee ने अपनी ज्यादातर फिल्मो में "English Dubbing" के लिए खुद की आवाज दी थी।


Tv Show, Green Hornet पर अपने शुरुआती काम के दौरान प्रोड्यूसर ने इस बात को नोटिस किया कि ब्रूस ली के पंच बहुत तेज होते थे जिन्हें कैमरे भी कैद नहीं कर पाते थे। सबसे पहले ये हास्यास्पद था। जब प्रोड्यूसर LEE को थोड़ा धीरे एक्शन करने के लिये कहते, इसके बाद भी Lee के एक्शन कैमरे में मुश्किल से कैच हो पाते थे।


काफी ज्यादा तेज़ होने की वजह से अक्सर ब्रूस ली को डायरेक्टर्स के द्वारा फाइट को धीरे-धीरे करने की सलाह दी जाती थी जिससे की डायरेक्टर्स उनकी फाइट को कैमरे में फिल्मा सके।


उन्होंने Hollywood की कई फिल्मो में अभिनय किया जिसमे Game Of Death, The Big Boss, Enter The Dragon, Return The Dragon. जैसी फिल्मे काफी सफल रही।


Bruce Lee का एक शॉट बहुप्रचलित "The Big Boss" नामक फ़िल्म से हटा लिया गया था जिसमे ब्रूस ली ने अपने एक दुश्मन का सर बिच में से काट दिया था। लोगो के मुताबिक यह सीन बड़ा भयानक था।


Bruce Lee की किक की रफ़्तार इतनी तेज़ थी कि एक फ़िल्म की शूटिंग के दौरान उन्हें एक शूट को 34 फ्रेम धीरे करना पड़ता था ताकि Screen पर ये न लगे कि ब्रूस नकली एक्टिंग कर रहे है क्योकि किसी भी आम शख्स के लिए इतनी गति में लात चलाना लगभग नामुमकिन था।


एक बार ब्रूस ली से एक फ़िल्म को लेकर पूछा गया कि मौत की लड़ाई में किसकी जीत होगी तभी चक नॉरिस ने कहा कि निश्चित रूप से ब्रूस ली, उन्हें कोई नहीं हरा सकता।


वैसे तो ब्रूस ली की सारी ही फिल्मे जबरदस्त थी लेकिन कुछ ऐसी फिल्मे है जो बेमिसाल है जिसमे से एक Hollywood की कंपनी वार्नर ब्रदर्स के सहयोग से बनी "Enter The Dragon" जिसने ब्रूस ली को नई ऊचाई दी। क्या आपको पता है इस फ़िल्म ने दुनिया भर में कमाई की और लगभग 200 मिलियन डॉलर कमा लिये।


Bruce Lee उस दौर के Hollywood के सबसे महंगे सितारे माने जाते थे।


इतना बड़ा स्टार होने के बाद भी ब्रूस ली सबसे ज्यादा अपने मार्शल आर्ट्स को महत्त्व देते थे। वे खुद को अभिनेता या लेखक से पहले एक मार्शल आर्टिस्ट मानते थे।


Bruce Lee की लोकप्रियता का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि उनका क्रेज हर वर्ग के लोगो में था बच्चो से लेकर बूड़े तक हर वर्ग के लोग उन्हें बहुत चाहते थे।


Bruce Lee की दीवानगी का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हो कि उनके मरने के बाद उनकी लोकप्रियता को भुनाने के लिये कई निर्देशकों ने ब्रूस ली जैसे दिखने वाले एक्टरो को अपनी फिल्मो में काम दिया और ये फिल्मे धड़ाधड़ हिट भी होने लगी थी क्योकि ब्रूस के नाम पर दर्शक कुछ भी देखना चाहते थे। इस तरह से ब्रूस ली ब्रांड की लोकप्रियता भुनाने के इस तरीके को ब्रूसप्लॉयटेशन नाम दिया गया।


दुनिया के सबसे मशहूर मार्शल आर्टिस्ट ब्रूस ली ने सिर्फ 7 Hollywood फिल्मे की इनमे 3 उनके मरने के बाद ही रिलीज़ हुई फिर भी हॉलीवुड हॉल ऑफ़ फेम में 'ब्रूस ली' की फोटो शामिल है


हॉलीवुड के बड़े सितारे जैकी चैन ने अपनी फिल्मी जीवन की शुरुआत ब्रूस ली की फिल्मो में स्टंटमैन बनने से ही की थी। जैकी चैन ब्रूस के बहुत बड़े प्रशंसक है।


क्या आपको पता है ब्रूस ली ने एक बार गलती से जैकी चैन को पिट दिया था


ब्रूस ली ने "The Silent Flunte" नामक एक फ़िल्म की कहानी भी लिखी थी। मगर इस फ़िल्म की शूटिंग कभी शुरू ही नहीं हो सकी।


Bruce Lee एक अच्छे "Sketch Artist" भी थे, उन्हें अपनी स्केच बनवाना पसंद था।


ब्रूस ली ने कई World Records भी बनाये जिन्हें आज तक कोई नहीं तोड़ पाया।


Bruce Lee अपने जीवन काल में एक भी फाइट नहीं हारे।


वैसे तो ब्रूस ली की सारी दुनिया ही फैन है, लेकिन ब्रूस ली भी किसी के फैन हुआ करते थे और उनका नाम था "गामा पहलवान"।


मानव इतिहास के सबसे महानतम मार्शल आर्टिस्टो में से एक होने के बाद भी ब्रूस ली अपने साथ .367 मैग्नम गन रखा करते थे क्योकि बहुत से लोग उनके साथ फाइट करने को तैयार रहते थे जिसमे कई बार उनको कुछ ऐसे लोगो का सामना भी करना पड़ता था जो किसी भी हाल में उनको हराना चाहते थे उनकी बड़ती लोकप्रियता के साथ-साथ ऐसे लोगो की संख्या भी बहुत तेजी से बड़ती गई जिसके कारण उन्हें अपनी सुरक्षा का बहुत ध्यान रखना पड़ता था।


बहुत से लोग शायद ये बात नहीं जानते कि ब्रूस ली पूरी तरह चायनीस नहीं थे क्योकि उनके नाना जर्मनी से थे और इसी कारण उन्हें चायना के बहुत से प्रसिद्ध कूंग-फू स्कूल्स में एडमिशन नहीं दिया गया पर ये सब ब्रूस ली को रोकने के लिए ना काफी था।


Bruce Lee मोहम्मद अली के बहुत बड़े प्रशंसक थे और दिन में कई कई बार उनकी फाइट्स को टी.वी. पर देखा करते थे। ब्रूस की हार्दिक इच्छा थी कि वे एक दिन मोहम्मद अली के साथ दो-दो हाथ करे।


Bruce Lee पानी से नफरत करते थे क्योकि उन्हें तैरना नहीं आता था।


Bruce Lee बेहद तेज़ रफ़्तार से गाड़ी दौड़ाया करते थे माना जाता है कि वे बहुत भयानक और जबरदस्त ड्राईवर थे


Bruce Lee की संपत्ति करीब 10 मिलियन डॉलर मानी गई है


कई लोगो का मानना है कि जब ब्रूस ली छोटे थे तब उन्हें मिर्गी की बीमारी भी थी।


Bruce Lee ने कहा था कि उनके पिता उनके सबसे पहले मार्शल आर्ट के गुरु थे क्योकि मार्शल आर्ट से Lee का पहला परिचय अपने पिता, ली होई च्युन के माध्यम से हुआ था उन्होंने वू शैली के ताई ची चुआन की बुनियादी बाते अपने पिता से सीखी।


Bruce Lee ने एक बार कहा था "अगर मै कल मर जाता हूँ, मुझे कोई दुःख नहीं होगा। क्योकि मै जो जीवन में करने आया था वह कर चूका हूँ, आप मुझसे ज्यादा उम्मीद नहीं कर सकते।" 


दुर्भाग्यवश ऐसे असाधारण कलाकार एवं मार्शल आर्ट के प्रणेता की अल्पायु में रहस्यमय परिस्थितियों में 20 जुलाई 1973 को मौत हो गई। ब्रूस ली की मौत का क्या कारण था, ये अभी तक रहस्यमय है उनकी मौत के कारण को लेकर बहुत सारी कहानियाँ है लेकिन ये माना जाता है कि उनकी मौत का कारण 'Pain Killer' था। उन्हें सरदर्द की शिकायत थी और उन्होंने पैन किलर ले ली और वे एक झपकी लेने के लिए लेट गए उसके बाद वो कभी नहीं उठे। ऐसा माना जाता है कि Pain Killer खाने से उनके शरीर में रिएक्शन हुआ था जिससे उनकी मौत हुई लेकिन यह 100% सही है यह कोई नहीं बता सकता।


Bruce Lee को टाईम मैगज़ीन की सूचि "20वी सदी के 100 सबसे प्रभावी लोग" में सूचीबद्ध किया गया है


NTV पर प्रसारित एक जापानी राष्ट्रिय सर्वेक्षण के अनुसार 31 मार्च 2007 को इतिहास के 100 सबसे प्रभावशाली लोगो में से एक के रूप में Lee को नामित किया गया था।


सन 2013 में, इन्हें एशियाई अवार्ड्स में प्रतिष्ठित फाउंडर अवार्ड्स से सम्मानित किया गया, उसी साल लॉस एंजेल्स के चाइनाटाउन में उनकी प्रतिमा का अनावरण किया गया. 7 फुट लम्बी प्रतिमा चीन के गुआंगज़ौ में बनाई गई और गर्व से एक मार्शल आर्ट प्रशिक्षक के रूप में उनकी उपलब्धियों को लोग आज भी सरहाते है।

Bruce Lee जैसे असाधारण प्रतिभा वाले लोग विरले ही होते है जो अपनी प्रतिभा की ऐसी अमिट छाप संसार के मष्तिष्क पर अंकित कर जाते है जिसे मिटा पाना शायद ही संभव हो। ब्रूस ली ने अपने जीवन में मार्शल आर्ट की अपनी अलग कला विकसित की जिसे वे "जीत कुन डो" कहते थे जिसमे गति और फुर्ती का अद्भुत सामंजस्य तथा शरीर के लचीलेपन का एक ऐसा समन्वित रूप था जो किसी भी प्रकार शस्त्र से लैस व्यक्ति का मुकाबला करने में सक्षम था। आज भी उनकी यह कला चीन, कोरिया नहीं अपितु विश्व के सभी देशो में प्रचलित है।

ब्रूस ली मार्शल आर्ट के पर्याय माने जाते है।


Bruce Lee के Career के बिच ही उन्हें एक Severe Back Injury हो गई थी जिस पर डॉक्टर ने कहा था वो जिंदगी भर Kick नहीं मार पायेंगे छः महीने तक उन्होंने Bed Rest किया और उसके बाद उन्होंने खुद कड़ी मेहनत और ट्रेनिंग की इसके बाद वो पहले से भी बेहतर Fighter बन गए ब्रूस ली ने कहा कि वो इसलिए ये सब कर पाए क्योकि उन छः महीनो में उन्होंने काफी किताबे पड़ी जिनमे से एक भारतीय लेखक कृष्णमूर्ति की किताब पड़ कर उन्हें स्वयं के प्रति प्रेरणा मिली ब्रूस ली को Time Magazine में विश्व के 100 प्रतिभाशाली व्यक्तियों की सूचि में चुना गया है अपनी अद्भुत क्षमताओ और कड़ी मेहनत से लोग आज भी उनसे प्रेरणा लेकर उनके जैसा बनना चाहते है उनके गंभीर स्वभाव और व्यक्तित्व का लोग आज भी आदरपूर्ण सम्मान करते है।

           Bruce Lee हो या फिर कोई भी Super Achiever आपको दुनिया में सम्मान पाना है तो सही दिशा में कड़ी मेहनत और लगन के बिना ऐसा कर पाना संभव नहीं है।




"Empty your mind, be formless. Shapeless, like water. If you put water into a cup, it becomes the cup. You put water into a bottle and it becomes the bottle. You put it in a teapot it becomes the teapot. Now, water can flow or it can crash. Be water my friend."

Bruce Lee

Comments

  • Jan 20, 2019

Log Out?

Are you sure you want to log out?